आजकल ब्राह्मणों का अनादर करना हमारे हिन्दू धर्म में फैशन बन गया है । जबकि भारत के क्रान्तिकारियो मे 90%क्रान्तिकारी ब्राह्मण थे जरा देखो कुछ मशहूर ब्राह्मण
क्रान्तिकारियोँ के नाम ब्राह्मण स्वतन्त्रता संग्राम सेनानी:-

(१) चंद्रशेखर आजाद
(२) सुखदेव
(३) विनायक दामोदर सावरकर( वीर सावरकर)
(४) बाल गंगाधर तिलक
(५) लाल बहाद्दुर शास्त्री
(६) रानी लक्षमी बाई
(७) डा. राजेन्द्र प्रसाद
(८) पण्डित रामप्रसाद बिस्मिल
(९) मंगल पान्डेय
(१०) लाला लाजपत राय
(११) देशबन्धु डा. राजीव दीक्षित
(१२) नेताजी सुभाष चन्द्र बोस
(१३) शिवराम राजगुरु
(१४) विनोबा भावे
(१५) गोपाल कृष्ण गोखले
(१६) कर्नल लक्ष्मी सह्गल ( आजद हिंद फ़ौज की पहली महिला )
(१७) पण्डित मदन मोहन मालवीय
(१८) डा. शंकर दयाल शर्मा
(१९) रवि शंकर व्यास
(२०) मोहनलाल पंड्या
(२१) महादेव गोविंद रानाडे
(२२) तात्या टोपे
(२३) खुदीराम बोस
(२४) बाल गंगाधर तिलक
(२५) चक्रवर्ती राजगोपालाचारी
(२६) बिपिन चंद्र पाल
(२७) नर हरि पारीख
(२८) हरगोविन्द पंत
(२९) गोविन्द बल्लभ पंत
(३०) बदरी दत्त पाण्डे
(३१) प्रेम बल्लभ पाण्डे
(३२) भोलादत पाण्डे
(३३) लक्ष्मीदत्त शास्त्री
(३४) मोरारजी देसाई
(३५) महावीर त्यागी
(३६) बाबा राघव दास
(३७) स्वामी सहजानन्द
सरस्वती हमारे इस पोस्ट का ध्येय जातिवाद बढ़ाना नहीं बल्कि सिर्फ आईना दिखाना है ध्यान रहे हिन्दू धर्म में ब्राह्मण,अग्नि ,गौ और औरतों का अनादर सबसे बड़ा पाप है,
जय सनातन धर्म
 
Top