राष्ट्र हित में पूरा पढ़ें फिर खुद निर्णय लें |

गद्दार का मुख्य प्रयाय्वाची कांग्रेस है वेसे सभी बुद्धिजीवी ये बात जानते हैं मगर ये बात अब जन जन तक पहुंचानी है|

जिसको भी इस बात में संदेह है आज हिंदी दिवस है तो भाषा से जुडा हुआ एक उद्धाहरण देता हूँ |

1961 में जब जनगणना हुई तब हमारी मात्र भाषाओँ की संख्या 1653 थी
1971 में जब जनगणना हुई तब हमारी मात्र भाषाओँ की संख्या 109 रह गयी |

ऐसा क्या हुआ की हमारी मात्र भाषइतनी तेज़ी से लुप्त हो गयी ????
हमारी मात्र भाषाएँ जो हजारों वर्षो से चली आ रही थी कांग्रेस ने उन्हें कुछ वर्षो में ही नष्ट कर दिया |

कानून के अनुसार 1965 तक अंग्रेजी की जगह हिंदी को पुरे देश में कामकाज की व्यवाहरिक भाषा बनाना था मगर इन् गद्दारों ने ऐसा नहीं किया आज भी हिंदी अपने ही देश में परायी भाषा के सामान है |

आपको अब एक और उद्धाहरण देता हूँ मात्र भाषा को केसे कानून बना कर बचाया जाता है और केसे दुनिया को अपनी भाषा को सिखाया जाता है यह मिशाल कायम की फ्रांस ने

1789 में फ्रांस की क्रांति के समय सिर्फ 50 प्रतिशत लोग ही फ्रेंच भाषा बोलते थे | और

आज 2012 में 92 प्रतिशत लोग फ्रेंच भाषा बोलते हैं |

फ्रांस में सभी सभी देशो की तरह ही अपनी मात्र भाषा फ्रेंच को प्रथम स्थान दिया गया है और आज कोई भी विकसित देश ऐसा है जो किसी और की भाषा को इस्तमाल कर के आगे बढ़ा हो तो हम केसे बढ़ सकते हैं

मुझे अंग्रेजी भाषा से कोई नफरत नहीं मगर मुझे हिंदी से बहुत प्यार है |


हिंदी दिवस पर इस सन्देश को सभी तक पहुंचाएं | मात्र भाषा को सम्मान दिलाने के लिए आगे आयें अपना राष्ट्र धरम निभाएं |

14 सितम्बर हिंदी दिवस की सभी को शुभकामनायें |
हिंदी अपनाएं देश, धर्म, संस्कृति, व मानवता की सर्वश्रेष्ठ सभ्यता को बचाएं |

हमारी मात्र भाषाएँ दुनिया की सबसे सम्रद्ध भाषाएँ हैं |

संस्कृत में शब्द संख्या 10 करोड़.
हिंदी में शब्द संख्या 9 लाख.
अंग्रेजी में शब्द संख्या 35000.

मात्रभाषा में बात करें और मानसिक तनाव से मुक्त रहें ||
 
Top