भारत की आज़ादी के जाबांज नायक नेताजी सुभाष चन्द्र बोस ..को देखिये क्या कह कर पढाया जाता हैं हमारे यहाँ की पाठ्य पुस्तकों में .. उन्हें क्रन्तिकारी विचारों वाला बताया जाना चाहिए न की इस तरह उग्रवादी कह कर ,''कुछ ज्ञानियों का कहना हैं की आज शब्दों के मायने बदल गए हैं उग्रवादी कहने का वो मतलब नहीं हैं .. अब इन ज्ञानियों से पूछिए की अगर आप मानते हैं की आज शब्दों के मायने बदल गएँ हैं तो क्या आपको पाठ्य पुस्तकों में इतिहास लिखते समय शब्दों के चयन पर गंभीरता पूर्ण विचार कर के ही लिखना चाहिए .. क्यूँ की पढने वाले तो बच्चे ही हैं ... जो आप लिखोगे बच्चे तो वही पढेंगे ... न ..
 
Top